SARFAROSHI KI TAMANNA LYRICS – Sonu Nigam

Sarfaroshi Ki Tamanna Hindi Lyrics by Sonu Nigam, Hariharan from The Legend of Bhagat Singh movie which has been music composed by A. R. Rahman.

Sarfaroshi Ki Tamanna Song Details:
Song: Sarfaroshi Ki Tamanna
Singer: Sonu Nigam
Music: A. R. Rahman

Sarfaroshi Ki Tamanna Hindi Lyrics

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है
देखना है ज़ोर कितना बाज़ू-ए-क़ातिल में है

करता नहीं क्यूँ दूसरा कुछ बातचीत
देखता हूँ मैं जिसे वो चुप तेरी महफ़िल में है
ऐ शहीद-ए-मुल्क-ओ-मिल्लत
मैं तेरे ऊपर निसार
अब तेरी हिम्मत का चरचा ग़ैर की महफ़िल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

वक़्त आने दे बता देंगे तुझे ए आसमान
हम अभी से क्या बताएँ क्या हमारे दिल में है
खैंच कर लाई है सब को क़त्ल होने की उमीद
आशिकों का आज जमघट कूचा-ए-क़ातिल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

है लिए हथियार दुश्मन ताक में बैठा उधर
और हम तैयार हैं सीना लिए अपना इधर
ख़ून से खेलेंगे होली अगर वतन मुश्क़िल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

हाथ जिन में हो जुनून, कटते नहीं तलवार से
सर जो उठ जाते हैं वो झुकते नहीं ललकार से
और भड़केगा जो शोला सा हमारे दिल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

हम तो घर से निकले ही थे
बाँधकर सर पर कफ़न
जाँ हथेली पर लिए लो बढ चले हैं ये कदम
ज़िंदगी तो अपनी मेहमां मौत की महफ़िल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

यूँ खड़ा मक़्तल में क़ातिल कह रहा है बार-बार
क्या तमन्ना-ए-शहादत भी किसी के दिल में है
दिल में तूफ़ानों की टोली और नसों में इन्कलाब
होश दुश्मन के उड़ा देंगे हमें रोको न आज
दूर रह पाए जो हमसे दम कहाँ मंज़िल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

वो जिस्म भी क्या जिस्म है
जिसमे न हो ख़ून-ए-जुनून
तूफ़ान से क्या लड़े जो कश्ती-ए-साहिल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है
देखना है ज़ोर कितना बाज़ू-ए-क़ातिल में

Sarfaroshi Ki Tamanna Ab Hamare Dil Mein Hai
Dekhna Hai Zor Kitna Baazuye Qatil Mein Hai
Sarfaroshi Ki Tamanna Ab Hamare Dil Mein Hai
Dekhna Hai Zor Kitna Baazuye Qatil Mein Hai
Waqt Aane Pe Bata Denge Tujhe Ae Aasmaan
Kya Bataye Hum Junoon-e-shauk Kis Manzil Mein Hai
Sarfaroshi Ki Tamanna Ab Hamare Dil Mein Hai
Sarfaroshi Ki Tamanna

Doriyan Umeed Ki Na Aaj Humse Chhot Jaaye
Milke Dekha Hai Jinhe Woh Sapne Bhi Na Rooth Jaaye
Hausle Woh Hausle Kya Joh Sitam Se Toot Jaaye
Hausle Woh Hausle Kya Joh Sitam Se Toot Jaaye
Sarfaroshi Ki Tamanna Ab Hamare Dil Mein Hai
Dekhna Hai Zor Kitna Baazuye Qatil Mein Hai

Khushboo Banke Mehka Karenge Hum Leharati Har Faslo Mein
Saaz Banke Hum Gun Gunayenge Aane Wali Har Naslo Mein
Khushboo Banke Mehka Karenge Hum Leharati Har Faslo Mein
Saaz Banke Hum Gun Gunayenge Aane Wali Har Naslo Mein
Aane Wali, Aane Wali Naslo Mein

Sarfaroshi Ki Tamanna Ab Hamare Dil Mein Hai
Dekhna Hai Zor Kitna Baazuye Qatil Mein Hai
Waqt Aane Pe Bata Denge Tujhe Ae Aasmaan
Kya Bataye Hum Junoon-e-shauk Kis Manzil Mein Hai

You may also like...